कैंसर रिसर्च

आंतों में रहने वाले गट बैक्टीरिया बाउल (bowel) यानी पेट के कैंसर का कारण भी हो सकते हैं।

इंटेस्टेनियल माइक्रोबायम हमारे आंत के भीतर फंग्स, बैक्टीरिया, वायरस का संग्रह है। शरीर में माइक्रोबायोम की संरचना भी इसके पीछे का एक बड़ा कारण हो सकती है।

read more ..

पेट स्कैन क्या है ? कैंसर मरीजों को क्यों कहा जाता है PET scan करवाने के लिए ?

कैंसर मरीजों की जांच अब तक एमआरआइ एवं सीटी स्कैन की इमेज के आधार पर जांच की जाती है, किंतु कोशिकाओं की वास्तविक स्थिति का सटीक पता नहीं लग पाता है। जबकि पेट स्कैन सूक्ष्म बीमार कोशिकाओं तक का पता लगा

read more ..

बायोप्सी क्या है? कैसे की जाती है बायोप्सी? क्यों करते हैं बायोप्सी ?

यह कैंसर के शक को पुख्ता करने का एक तरीका है। इसमें मरीज के शरीर से एक सैंपल निकाला जाता है। अमूमन वह ट्यूमर हो सकता है।

read more ..

भारतीयों में होने वाले जीभ के कैंसर के दुर्लभ पी53 रूप की पहचान की है

एक नये अध्‍ययन में सीडीएफडी के वैज्ञानिकों ने भारतीयों में होने वाले जीभ के कैंसर के दुर्लभ पी53 रूप की पहचान की है, जिससे ये म्‍यूटेंट पी53 कैंसर का कारण बनता है.

read more ..

लंग्स से लेकर कोलोन तक हर तरह के कैंसर का होगा इलाज

वैज्ञानिकों ने दावा किया है कि रोग प्रतिरोधक क्षमता यानी शरीर की इम्यूनिटी को बढ़ाकर हम हर तरह के कैंसर से लड़ सकते हैं।

read more ..

पुरुषों को रोज 110 मिलिग्राम और महिलाओं को मिलिग्राम विटामिन सी लेना चाहिए.

संक्रामक बीमारियों से बचाने वाली चीजों में विटामिन सी का नाम काफी ऊपर आता है. यह एक ऐसी चीज है जिसकी हमें रोजाना बहुत कम मात्रा में जरूरत होती है.

read more ..

कुछ ट्यूमर या कैंसर के अंदर ही प्रतिरक्षा कोशिकाओं की "फैक्ट्रियां" होती हैं .

ताजा शोध से पता चला है कि कुछ ट्यूमर या कैंसर के अंदर ही प्रतिरक्षा कोशिकाओं की "फैक्ट्रियां" होती हैं. जो शरीर को कैंसर के खिलाफ लड़ने में मदद करती हैं.

read more ..

एक नए शोध से किसी भी तरह के कैंसर का इलाज संभव हो सकता है

एक नए शोध के मुताबिक इंसानी प्रतिरोधक तंत्र का ही एक हिस्सा किसी भी तरह के कैंसर का इलाज कर सकने में सक्षम है। यह बात ब्रिटेन के कार्डिफ विश्वविद्यालय की रिसर्च में सामने आई है।

read more ..

कैंसर से ऐसे कर सकते हैं बचाव

नियमित व्यायाम कर सात प्रकार के कैंसर के खतरे (CANCER PREVENTION) को कम किया जा सकता है। यह खुलासा अमरीकन कैंसर सोसायटी के एक शोध में हुआ जो जर्नल ऑफ क्लिनिकल ऑन्कोलॉजी में हाल ही प्रकाशित हुआ।

read more ..

कैंसर का पता लगाने का नया तरीका विकसित

खून में मौजूद कैंसर कोशिकाओं (सीटीसी)के आधार पर कैंसर के चरण का पता लगाने का नया तरीका विकसित किया है। एक्टोरियस इनोवेशन एंड रिसर्च के प्रमुख वैज्ञानिक डॉ. जयंत खानडारे ने बताया

read more ..