पेशेंट की जुबानी

ब्रेस्ट कैंसर ने ज्योति को झकझोर दिया था।

सही समय पर इलाज न मिलने पर कैंसर जानलेवा हो सकता है।आज हम आपको बताएंगे एक ऐसी महिला शिक्षक की, जिन्होंने स्तन कैंसर से जंग जीतकर हर उस डर-संकोच को हराया, जो इससे पीड़ित महिलाओं को इलाज तक पहुंचने नहीं

read more ..

रितु कहती है कि लोगों को हिम्मत के साथ कैंसर से लड़ना चाहिए।

जुगसलाई निवासी रितु रुंगटा कैंसर से जंग लड़ कर न सिर्फ सेहतमंद हुई, बल्कि लड़ते हुए उन्होंने यूरोप में जाकर मिसेज आयरन लेडी का खिताब भी अपने नाम किया।

read more ..

कैंसर की सर्जरी कैंसर सर्जन से ही कराएं न कि जेनरल सर्जन से।

बाराद्वारी की रहने वाली नीलम चंद्रा के हौसले के आगे कैंसर हार गया और वह अब उन्‍होंने दूसरों की जान बचाने की बीड़ा उठाया है। फिलहाल वह जबलपुर में हैं।

read more ..

कैंसर मरीज 100 वर्षीय महिला ने कोरोना को मात दी।

मध्यप्रदेश के खरगोन जिले में कैंसर से जूझ रही एक 100 वर्षीय महिला ने कोरोना को मात दी है। बड़ी बात ये है कि महिला का इलाज उसके घर में ही हुआ और उसके परिवार के अन्य लोगों को संक्रमण भी नहीं फैला।

read more ..

कैंसर को मैंने हराया वो भी योग से।

योग से कई तरह की बीमारियों का भी इलाज होता है। मगर एक केस ऐसा भी है जिसमें योग से चौथी स्‍टेज का कैंसर ठीक हो गया। यकीन कर पाना भले ही मुश्किल हो, मगर बात सौ फिसदी सच है।

read more ..

मेरी वाइफ मुझे वीडियोज दिखाकर हंसाने की कोशिश करती थी:ब्लड कैंसर पीड़ित मनोज

मनोज गोयल काे शादी के 5 महीने के बाद ही जानलेवा ब्लड कैंसर हो गया था, जिसके बाद डॉक्टराें ने उन्हें जवाब दे दिया। अपने फेसबुक पेज में मनोज लिखते हैं कि उनकी अपनी पत्नी से पहली मुलाकात एक दोस्त की पार्

read more ..

तुषार 19 वर्ष का था तब उसे पता चला की उसे घुटने में कैंसर है।

19 वर्षीय तुषार को क्लास 10 के मॉक एग्जाम के तुरंत बाद अपने घुटने में कैंसर का पता चला था जिसके बाद उन्हें कीमोथेरपी से गुजरना पड़ा. साल 2015 में कीमोथेरपी खत्म होने के बाद उन्होंने 10वीं बोर्ड की परी

read more ..

कैंसर का इलाज करवाते करवाते आज दूसरों के लिए एक मिसाल बन गए।

दिल्ली से सटे फरीदाबाद में रहने वाले अरुण गुप्ता कभी एक बड़ी कंपनी में सीएफओ के पद पर थे। परिवार में दो बेटियों और पत्नी के साथ ज़िदगी की राह बड़ी आसानी से कट रही थी,

read more ..

प्यार क्या है शायद यह कहानी पढ़ के समझ आए।

कैंसर जैसी बीमारी न केवल एक मरीज को मारती है बल्कि यह धीरे-धीरे उसे उसके प्रियजनों को भी उससे दूर कर देती है। गले में दर्द, जोड़ों में दर्द, भूख, कमजोरी और नाजुक शरीर के चलते मरीज को हर समय मौत का डर

read more ..